Wednesday, July 25, 2007

बिल गेट्स को शिकायती पत्र

आदरणीय बिल्लू भिया को,
इंडिया से मुंगेरीलाल सरपंच का सलाम कबूल हो... आपके देश के एक
और बिल्लू भिया (बतावत रहें कि प्रेसीडेंटवा रहे) ऊ भी इस पंचायत को
एक ठो कम्प्यूटर दे गये हैं । अब हमरे गाँव में थोडा-बहुत हमही पढे-
लिखे हैं तो कम्प्यूटर को हम घर पर ही रख लिये हैं । ई चिट्ठी हम
आपको इसलिये लिख रहे हैं कि उसमें बहुत सी खराबी हैं (लगता है
खराब सा कम्प्यूटर हमें पकडा़ई दिये हैं), ढेर सारी "प्राबलम" में से कुछ
नीचे लिख रहे हैं, उसका उपाय बताईये
-१. जब भी हम इंटरनेट चालू करने के लिये पासवर्ड डालते हैं तो हमेशा ******** यही लिखा आता है, जबकि हमारा पासवर्ड तो "चमेली" है... बहुत अच्छी लडकी है...।
२. जब हम shut down का बटन दबाते हैं, तो कोई बटन काम नही करता
है ।
३. आपने start नाम का बटन रखा है, Stop नाम का कोई बटन नही है....
रखवाईये...
४. क्या इस कम्प्यूटर में re-scooter नाम का बटन है ? आपने तो
recycle बटन रखा है, जबकि हमारी सायकल तो दो महीने से खराब पडी
है...
५. Run नाम के बटन दबा कर हम गाँव के बाहर तक दौड़कर आये,
लेकिन कुछ नही हुआ, कृपया इसे भी चेक करवायें या फ़िर Sit नाम का
बटन बनायें...
६. कल हमारी चाबियाँ खो गई थीं, Find का बटन दबाया, लेकिन नहीं मिली,
क्या किया जाये ?
७. Out-Look का बटन दबा कर छोरे को बहुत देर तक बाहर देखने को बोला,,,
भैंस और चमेली के अलावा कुछ नहीं दिखा....
८. programs तो आपने बहुत दिये हैं लेकिन हमरे काम का कुछ नहीं,
इसलिये प्रार्थना है कि...
जीटीवी, एमटीवी भी चालू करवा दें... मजा आ जायेगा....
९. Paste की भी कोई जरूरत नहीं है... हम तो नीम की दातौन करते हैं...
१०. सिर्फ़ एक बात तारीफ़ की है... कि आपने ये कैसे जाना कि
यह "My Computer" है ?
जल्दी से जल्दी कम्प्यूटर ठीक करवाने की कृपा करें... ताकि पंचायत का
काम "सई-साट" चले..

हस्ताक्षर / अंगूठा
सरपंच मुंगेरीलाल

5 comments:

Sagar Chand Nahar said...

मजेदार पत्र लिखा मुंगेरी लाल ने, प्रश्न भी जायज है। बिल्लू भीया भी अपने बाल नोच रहे होंगे। :)

काकेश said...

अच्छा पत्र है जी..बिल्लू जी से बात करते हैं...

Teena_Tam said...

Haan bhai ee peroblem toh kaaayi murkhon ki batayi jaati hai kintu eh toh creativity hai is joke ko post karne waale ki ,,,,,thats too good dear ,,,,,,

Suresh Chiplunkar said...

भाई साहब एक नजर जरा इधर भी डाल लीजियेगा..
http://sureshchiplunkar.blogspot.com/2007/02/complaints-to-bill-gates.html
लगे हाथों यह भी बता दूँ कि यह "नईदुनिया" (इन्दौर) में दिनांक 22.09.2005 को प्रकाशित भी करवा चुका हूँ..

lalit mohan pandey said...

Bahut Badiya sandy ji ....
to akhir tumne ye post bhi mere blog se chura hi liya .....
:)
lage raho india lage raho ...